Monday, April 22, 2024
अंतरराष्ट्रीय

यूक्रेन में उत्तराखण्ड के 150 से अधिक लोग फंसे, डाटा जुटा रही है पुलिस

देहरादून- यूक्रेन में फंसे उत्तराखण्डी छात्रों और लोगों को वापस लाने के लिये उत्तराखण्ड सरकार ने मुहीम तेज कर दी है। अभी तक सरकार को नहीं मालूम की यूक्रेन में आखिर उत्तराखण्ड के कितने छात्र और लोग मौजूद है। शासन का अनुमान है कि करीब 150 से अधिक लोग और छात्र यूक्रेन में हो सकते हैं। यूक्रेन में फंसे लोगों को वापस लाने के लिये सरकार ने पुलिस को डाटा तलाशने के आदेश दिये हैं। रूस की सेना के यूक्रेन पर हमले के बाद स्थितियां गंभीर हो रही हैं, तो उत्तराखंड में उन लोगों का रो-रोकर बुरा हाल है, जिनके बच्चे और परिजन यूक्रेन में हैं। इन सभी के चिन्हीकरण के लिए पुलिस ने अभियान शुरू कर दिया है। टोल फ्री नम्बर 112 के साथ ही 9411112972 वॉट्सएप नम्बर पर लोग डिटेल भेज सकते हैं। प्रमुख सचिव आरके सुधांशु ने सभी ज़िलों के डीएम और एसपी को एक आदेश जारी कर यह डेटा मांगा है कि किस ज़िले से कितने लोग यूक्रेन में हैं। इस आदेश पर कार्रवाई करते हुए पुलिस डेटा जुटाने की कवायद शुरू कर रही है। यूक्रेन में रहने वाले व्यक्तियों के नाम, घर का स्थाई पता, यूक्रेन के एड्रेस, मेल आईडी, पासपोर्ट नम्बर, मोबाइल नम्बर जैसी जानकारियां मांगी गई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *