Monday, April 22, 2024
उत्तराखंड

उत्तराखंड में नकली रेमडेसिविर बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़, 5 लोग गिरफ्तार, 25 हजार में बेचते थे इंजेक्शन

-आकांक्षा थापा

उत्तराखंड से एक बड़ी खबर सामने आ रही है, जी हाँ उत्तराखंड के कोटद्वार का यह मामला है . . दरअसल दिल्ली पुलिस ने गुरुवार को नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन बनाने वाली एक फार्मास्युटिकल फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया। यह फैक्ट्री उत्तराखंड के कोटद्वार में थी, और यहाँ से पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने उनके पास से 196 नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन भी बरामद किए हैं। नकली इंजेक्शन बनाने वाली इस फार्मास्युटिकल फैक्ट्री का पर्दाफाश तो हो गया लेकिन पुलिस के मुताबिक ये आरोपी पहले ही 2,000 नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन बेच चुके हैं। दिल्ली पुलिस कमिश्नर एस.एन. श्रीवास्तव ने ट्विटर पर इस जानकारी की पुष्टि की….

कमिश्नर ने ट्वीट कर बताया, “दिल्ली पुलिस ने उपयोगी सूचनाओं पर काम करते हुए एक लंबी जांच के बाद 5 लोगों को गिरफ्तार करते हुए उत्तराखंड के कोटद्वार में भारी तादाद में नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन बनाने वाली एक ‘फार्मास्युटिकल’ फैक्ट्री का पता लगाया है। आरोपी इन नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन (COVIPRI) को 25000 रुपये में बेचते थे। कमिश्नर ने बताया, “बेचने के लिए तैयार सभी  196 नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन जब्त कर लिए गए हैं। इसके साथ ही फैक्ट्री से पैकिंग मशीन और रेमडेसिविर इंजेक्शन की 3000 खाली शीशियां बरामद की गई हैं। पुलिस की पूछताछ में अभियुक्तों ने यह भी खुलासा किया है कि अब तक 2,000 नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन बेच चुके हैं।”

 

कोरोना वायरस संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों के कारण एंटीवायरल रेमडेसिविर इंजेक्शन की मांग बढ़ गई है। और यही कारण है की धोकेबाज़ इस मुश्किल घडी में भी ज़रूरतमंदो का फायदा उठा रहे हैं ..

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *