Wednesday, May 22, 2024
अंतरराष्ट्रीयअल्मोड़ाउत्तरकाशीउत्तराखंडउधम सिंह नगरकोविड 19चमोलीचम्पावतटिहरी गढ़वालदिल्लीदेहरादूननैनीतालपंजाबपिथौरागढ़पौड़ी गढ़वालबागेश्वरबिहारराजनीतिराज्यराष्ट्रीयरुद्रप्रयागस्पेशलहरिद्वार

आपके बच्चे को नहीं होगा CORONA – SCHOOL खुलने से पहले सिखाएं ये 5 आदतें 

आज कोरोना का खौफ घर घर में फैला हुआ है ….  क्या बच्चे क्या बूढ़े और अब क्या नौजवान …. कब कौन इस वायरस की चपेट में आ जाये कहना मुश्किल है इन सबके बीच अभिभावकों के सामने अपने बच्चों को कंट्रोल करना सबसे बड़ी चुनौती है….. आज नहीं तो कल स्कूल भी खुलने ही हैं ऐसे में समय से पहले ही आपको सतर्क हो जाना चाहिए और अभी से अपने बच्चे को बेहद ख़ास पांच आदतें सीखना शुरू कर दीजिये जिससे स्कूल में आपका नौनिहाल बिना किसी आशंका के पढ़ाई पर ध्यान दे सके …. क्यूंकि जब तक कोविड-19 की वैक्सीन सभी देशों को उपलब्ध नहीं हो जाती, सरकार के साथ घर के सभी बड़े लोगों की यह जिम्मेदारी है कि वो अपने परिवार और बच्चों की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखें।

स्कूल खुलने से पहले सिखाएं ये पांच आदतें — 

बच्चों को समझाएं सोशल डिस्टेंसिंग कैसे रखना है ———


स्कूल शुरू होने से पहले बच्चों को सोशल डिस्टेंसिंग का महत्व समझाएं। घर पर भी अपने बच्चों की डेस्क दूर-दूर रखें ताकि आगे स्कूल खुलने पर उनमें दूरी रखने की आदत बनी रहे। 

ज़रूर डालें हाथ धोने की आदत ———


अपने बच्चों को बताएं कि घर के अंदर या बाहर किसी भी सिस्टम, दरवाजे का हैंडल, नल का हैंडल, जैसी चीजें छूने के बाद उन्हें अच्छे से हाथ जरूर साफ करना है।  बच्चों को कम से कम 20 सेकेण्ड तक अच्छे से हाथ धोने की आदत डालें। इसके अलावा बच्चों को हैंड सैनेटाइजर का भी इस्तेमाल करना सिखाएं 

बचे को समझाएं कि मास्क पहनना है जरूरी ——


बच्चों को समझाएं जहां सोशल डिस्टेंसिंग संभव न हो कपड़े का मास्क लगाएं रखें। अपने बच्चे के बैग में हमेशा एक्स्ट्रा मास्क जरूर डालकर रखें ताकि अगर उसे अपना मास्क बदलना हो तो वो आराम से कर सके। बच्चे को समझाएं कि उसे अपने दोस्तों के साथ अपना मास्क नहीं बदलना है। 

खाना बाँटने और टिफिन शेयर करने से बचना सिखाएं —– 

S


बच्चों को बताएं कोविड-19 के चलते स्कूल में अपने दोस्तों के टिफिन बॉक्स से या उनका झूठा किया हुआ भोजन न खाएं।  

खांसते-छींकते समय मुंह पर रुमाल या कोहनी के इस्तेमाल की डालें आदत —– 


बच्चों को समझाएं जब कभी स्कूल में उन्हें छींक या खांसी आएं तो वो अपने मुंह के पास अपने रूमाल का इस्तेमाल करें, ताकि संक्रमण दूसरे बच्चों तक न फैलें। 

इसी सुरक्षा में घर के छोटे बच्चे भी आते हैं। जो स्कूल खुलने पर अपने-अपने स्कूल जाएंगे। ऐसे में बच्चों को स्कूल भेजने से पहले आपको उनकी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए उन्हें ऐसी कई जरूरी बातें सिखानी और समझानी होंगी जोकि कोरोना काल में जीवन का जरूरी हिस्सा बन चुकी हैं।   

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *