Wednesday, July 17, 2024
उत्तराखंडराज्य

उत्तराखंड में हर घर जुड़ेगा नल से – जल जीवन मिशन ने तय किये लक्ष्य 

उत्तराखंड में जल जीवन मिशन की इस वर्ष की कार्य योजना को मंजूरी मिलते ही योजना में जिले वार निर्धारित लक्ष्यों को तय समय के भीतर हासिल करने के लिए सभी जिलों को सरकार ने सक्रिय कार्यवाही शुरू करने का आदेश दिया है। आपको बता दें कि प्रदेश सरकार की ओर से जल जीवन मिशन के तहत भेजी गई चालू वित्तीय वर्ष की 1565 करोड़ की कार्य योजना को केंद्र सरकार ने बीते दिनों ही मंजूरी दी है।  योजना में इस वर्ष प्रदेश के विभिन्न जिलों के 4502 गांवों में ग्रामीणों को 3.58 लाख पेयजल कनेक्शन देने का लक्ष्य है। 

चमोली जिले के हर गांव को इसी वर्ष नल से जल से जोड़ा जाना है। योजना में जिला स्तर पर डीएम की अध्यक्षता में गठित होने वाली समितियों को सशक्त बनाया गया है। योजना में प्रत्येक जिले का लक्ष्य तय होने के बाद इसे जिला स्तर से धरातल पर उतारा जाना है। 

इसमें गांवों में प्रत्येक घर को नल से जल मुहैया कराने के मद्देनजर लिए हर गांव में ग्राम स्वच्छता एवं पेयजल समितियों का गठन होना है। प्रत्येक गांव का एक्शन प्लान बनना है। मिशन के तहत गांवों में 140 एनजीओ के माध्यम से कार्य होना है। किस गांव में कौन एनजीओ कार्य करेगा, इसका निर्धारण जिलों से ही होना है।

एक नज़र डालते हैं क्या है आने वाले साल में मिशन का लक्ष्य

साल ———————-पेयजल कनेक्शन (लाख में)

2020-21——3.58

2021-22——4.90

2022-23——2.14

2023-24——1.81

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अधिकारीयों को योजना पर तेज़ी से आगे बढ़ने का निर्देश दिया है। वही अब अगले वर्ष की कार्ययोजना के प्रस्ताव जिलों से आने हैं। माना जा रहा है की मार्च तक  राज्य स्तर पर इस पूरी प्रक्रिया को फाइनल कर लिया जायेगा। हांलाकि जानकार मानते हैं कि पहाड़ में मिशन अपने उद्देश्यों में सफल तभी हो पायेगी जब वो सभी चुनौतियों से आगे बढ़ सकेगी। अब देखना होगा कि शासन और जिला प्रशासन कितनी तेज़ी से घर घर पानी पहुँचाने के मिशन को पूरा कर सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *