Wednesday, July 24, 2024
खेल समाचार

आज से फुटबॉल के ‘मिनी विश्व कप’ का आगाज़, सबसे पहले तुर्की और इटली के बीच टक्कर

-आकांक्षा थापा

फुटबॉल का ‘मिनी विश्व कप’ यानि यूरोपियन फुटबॉल चैंपियनशिप 2020 का आग़ाज़ आज यानि शुक्रवार से हो रहा है.. कोरोना के चलते पिछले साल से टल रही थी चैम्पियनशिप ; इस खबर से फुटबॉल फैंस का लम्बा इंतज़ार अब खत्म होने जा रहा है… पहली बार 11 देशो में आयोजित होने वाले इस चैम्पियनशिप का उद्घाटन तुर्की और इटली के मैच से होगा, यह पहला मैच देर रात 12:30 बजे रोम के ओलम्पिक स्टेडियम में खेला जायेगा। आपको बता दें की फीफा विश्व कप के बाद यूरो कप फुटबॉल का सबसे बड़ा टूर्नामेंट है।

फुटबॉल चैंपियनशिप 2020 कई मायनों में ख़ास है –

  • इस टूर्नामेंट के 60 साल के इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है की मुकाबले 11 अलग-अलग शहरों में होंगे. अब तक इस टूर्नामेंट की ज्यादा से ज्यादा 2 देशों ने मेजबानी की है. इस बार लंदन, ग्लास्गो, कोपेनहेगन, सेविल, बुडापेस्ट, एम्सर्टडम, रोम, म्यूनिख, बाकू, बुखारेस्ट और सेंट पीटर्सबर्ग में मैच होंगे.
  • 2021 में होने के बाद भी टूर्नामेंट को यूरो 2020 नाम दिया
    दरअसल यूरो 2020 पिछले साल 12 जून से 12 जुलाई तक होना था, लेकिन कोरोना महामारी के कारण यह टलता रहा. हालाँकि टूर्नामेंट साल 2021 में हो रहा है, इसे फिर भी यूरो 2020 ही कहा जा रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि 1960 में यूरोपियन फुटबॉल चैम्पियनशिप का आगाज हुआ था. 2020 में इसके 60 साल पूरे हुए थे… ऐसे में यूईएफए ने इसका जश्न मनाने की तैयारी की थी, लेकिन कोरोना महामारी के कारण ऐसा संभव नहीं हो पाया… ऐसे में संगठन ने 60 साल पूरा होने का जश्न मनाने के लिए 2021 में होने वाली चैम्पियनशिप को भी यूरो 2020 का ही नाम दिया है।
  • यूरो कप का आगाज तुर्की और इटली के मैच से होगा…. ये मुकाबला देर रात 12.30 बजे रोम के ऐतिहासिक ओलंपिक स्टेडियम में होगा। फिलहाल, इटली में कोरोना वायरस काबू में है, ऐसे में स्टेडियम में फैंस को आने की अनुमति दी गयी है। हालांकि, संख्या सीमित रहेगी। जानकारी के मुताबिक, इस मैच के लिए स्टेडियम में 20 फीसदी दर्शकों को अनुमति दी जा सकती है..
  • कोरोना को लेकर टूर्नामेंट में बदले नियम, पिछले साल यूईएफए की कार्यकारी समिति ने कोरोना के कारण 5 सब्सटिट्यूट का इस्तेमाल करने की इजाजत दे दी थी. पहले 3 ही सबस्टिट्यूट की मंजूरी थी. इसके साथ ही टीम एक्स्ट्रा टाइम, फुल टाइम (90 मिनट) के बाद छठा सब्सटिट्यूट भी इस्तेमाल कर सकेगी. हालांकि, टीमों को फुल टाइम तक सिर्फ तीन बदलाव के ही मौके मिलेंगे और अतिरिक्त समय में चौथा मौका मिलेगा.
  • टूर्नामेंट का सेमीफाइनल और फाइनल लंदन के वेम्बले स्टेडियम में होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *