Saturday, November 26, 2022
Home कोविड 19 कोरोना वायरस का डेल्टा वैरिएंट ज़्यादा घातक और देश में दूसरी लहर...

कोरोना वायरस का डेल्टा वैरिएंट ज़्यादा घातक और देश में दूसरी लहर का जिम्मेदार

-आकांक्षा थापा

भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर अब थमने लगी है। जहाँ कुछ समय पहले हालात एकदम बेकाबू हो चुके थे, वहीँ अब संक्रमण पहले के मुकालबे कम फ़ैल रहा है। देश में आई कोरोना की दूसरी लहर को लेकर जानकारों ने अब एक बड़ा खुलासा किया है। जी हाँ, एक शोध के आधार पर जानकारों ने दावा किया है कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर के लिए “डेल्टा वैरिएंट” को जिम्मेदार माना जा सकता है। इसे “अल्फा वैरिएंट” से भी ज्यादा खतरनाक बताया जा रहा है।INSACOG की ओर से किए गए एक शोध में जानकारों द्वारा इसका दावा किया गया है। भारत में इस वैरिएंट चिंता का विषय बताया गया है। आपको बता दें की देश में डेल्टा वैरिएंट के अब तक 12,000 से ज्यादा मामले सामने आये हैं, यह जानकारी नेशनल सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल ने दी है। वहीँ इस शोध की बात की जाए तो, INSACOG ने यह शोध किया है। बता दें की INSACOG भारत में जीनोम अनुक्रमण करने वाली प्रयोगशालाओं का संघ है।

क्या है कोरोना का डेल्टा वैरिएंट ?
देश में मिले कोरोना वैरियंट्स के वैज्ञानिक नाम B.1.617.2 और B.1.618 हैं। इनमे से B.1.617.2 वैरियंट सबसे पहले पाया गया था, जिसे डबल म्यूटेंट स्ट्रेन भी कहा गया था। आपको बता दें की यहाँ हम जिस डेल्टा वैरिएंट की बात कर रहे है वो B.1.617.2 ही है। इसके अलावा B.1.618 वैरियंट को कप्पा के नाम से जाना जाएगा।

डेल्टा वैरिएंट अल्फ़ा वैरिएंट से ज़्यादा खतरनाक
डेल्टा वैरिएंट यानि B.1.617.2, अल्फा वैरिएंट यानि B.1.1.7 की तुलना मे 50% तेजी से फैलता है। यहाँ गौर करने वाली बात यह है की वैक्सीन लेने के बावजूद भी कोरोना के इस वैरिएंट से संक्रमित होने की संभावनाएं कम नहीं बल्कि काफी ज़्यादा है। दूसरी तरफ बात करें कोरोना के अल्फा वैरिएंट की, तो अक्सर देखा गया है की वैक्सीन लगाने के बाद इस वैरिएंट से एक भी व्यक्ति कोरोना से संक्रमित नहीं हुआ है।

देश के इन हिस्सों में डेल्टा वैरिएंट की मौजूदगी
भारत में आई दूसरी लहर में कोरोना के डेल्टा वैरिएंट ने वायरस के बाकी सभी वैरिएंटों को पीछे छोड़ दिया। आपको बता दें कि कुल 29,000 जीनोम अनुक्रमण (सिक्वेंसिंग) में 1000 से ज्यादा मामले सामने आए हैं। जबकि अबतक डेल्टा वैरिएंट के 12,200 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। डेल्टा वैरिएंट का सबसे ज्यादा असर दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्र प्रदेश, ओडिशा और तेलंगाना में देखने को मिला है हालाँकि, इस वैरिएंट की मौजूदगी लगभग देश के सभी राज्यों में है…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

पूर्व विधायक संगठन के समर्थन में उतरे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करण मेहरा और पूर्व सीएम हरीश रावत

पूर्व विधायकों के संगठन को लेकर कुछ समय से राजनीतिक गलियारों में चर्चाएं हो रही हैं। वहीं इस संगठन का कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष...

नगर निगम के घाटों की सफाई का जिम्मा अब सामाजिक और धार्मिक संस्थानों के कन्धों पर

धर्मनगरी हरिद्वार के गंगा घाटों की सफाई और सजावट का कार्य अब धर्मनगरी के सामाजिक और धार्मिक संस्थाएं करेंगी। कई संस्थान हैं जो नगर...

5 करोड़ का इनाम हत्यारोपी दिल्ली से गिरफ्तार, ऑस्ट्रेलियाई महिला की हत्या कर फरार था

विदेशी धरती पर एक विदेशी महिला की हत्या करने वाला आखिरकार चार साल दौड़ने और भागने के बाद दिल्ली पुलिस के शिकंजे में फंस...

रणवीर एनकाउंटर से जुड़ी बड़ी खबर, सुप्रीम कोर्ट से 5 दोषियों को मिली बेल

देहरादून के चर्चित रणवीर एनकाउंटर के दोषी पुलिसकर्मियों को सुप्रीम कोर्ट ने जमानत दे दी है। तीन जुलाई 2009 में हुए कथित एनकाउंटर मामले...

निशंक के बयान पर हरीश रावत ने दी तीखी प्रतिक्रिया, हरिद्वार से चुनाव लड़ने की जाहिर की अभिलाषा

उत्तराखंड में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत हरिद्वार में भारत जोड़ो यात्रा की अगुवाई कर रहे हैं। वहीं बीजेपी भारत...

bollywood : अभिनेता अमिताभ बच्चन की आवाज और इमेज कॉपी की तो होगी मुश्किल

बॉलीवुड के महानायक अभिनेता अमिताभ बच्चन की आवाज और इमेज को आज बहुत से लोग पैसे कमाने या ठगी के रूप में इस्तेमाल कर...

इनकम टैक्स की छापेमारी जारी, देहरादून और सहारनपुर में  होटल कारोबारी के 50 ठिकानों पर रेड

राजधानी देहरादून और यूपी के सहारनपुर में इनकम टैक्स की छापेमारी लगातार दूसरे दिन भी जारी है। देहरादून में कई कारोबारियों के ठिकानों पर...

जल्द पहाड़ों में ड्रोन की मदद से मरीजों को पहुंचाया जायेगा अस्पताल, ह्यूमन लिफ्टिंग ड्रोन की तकनीक पर किया जा रहा काम

अक्सर पहाड़ों के गांव से मरीजों को डंडी-कंडी के सहारे सड़क तक पहुंचाने और अस्पताल तक ले जाने की तस्वीरें अक्सर सामने आती हैं।...

उत्तराखंड में जल्द होगी कांस्टेबल भर्ती, सीएम धामी ने दी सैद्धांतिक मंजूरी

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पिछले दिनों कांस्टेबल के रिक्त पदों पर जल्द भर्ती शुरू करने के निर्देश जारी किए। अब सीएम धामी से...

विधानसभा बैक डोर भर्ती पर हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, स्पीकर के आदेश को कोर्ट ने ठहराया सही

हाईकोर्ट में उत्तराखंड विधानसभा सचिवालय से बर्खास्त कर्मचारियों को एकलपीठ के बहाल किए जाने के आदेश को चुनौती देती विधान सभा की ओर से...